Latest

6/recent/ticker-posts
Showing posts from 2021Show all
उम्मीद पर तो दुनिया कायम है।
Sergei Eisenstein (सेर्गे आइसेन्स्टाइन) - फादर ऑफ मोंटाज।
Tum toh bade samjhdaar the | तुम तो बड़े समझदार थे।
Mujhe tum bewafa kahana, mujhe wafa nahi aati.
Mohabbat ka shamiyana chahta hu | मोहब्बत का शामियाना चाहता हूँ।
Main toh bas..
New heart touching hindi shayari.
Tum apni tamanna apne paas rakho | तुम अपनी तमन्ना अपने पास रखो।
Top 10 Best two line Shayari of 2021 | 2021 की 10 बेहतरीन दो लाइन की शायरी।
Gunahon ke devta book review by Harshit Guptaa.
Khud se main kaise karun bewafai | खुद से मैं कैसे करूँ बेवफ़ाई।
इंतक़ाम अभी बाकी है।
किस बात की भागमभाग और दौड़ है।
दूर तुम हुई, विस्थापन हम झेल रहे हैं।
Tumhare Khwabon Ka Bas Yahi Ek Anzam Hoga | तुम्हारे ख़्वाबों का बस यही एक अंज़ाम होगा।
Review of the book Papaman written by Nikhil Sachan.
Woh Moti Tootkar Bikhar Gaya | वो मोती टूटकर बिखर गया।
Bewafai ka jashn hoga | बेवफ़ाई का जश्न होगा।
Tum mujhe bas pehchan lena | तुम मुझे बस पहचान लेना।
Ek doosre ko sirf apna kahenge | एक दूसरे को सिर्फ़ अपना कहेंगे।
Phir na jane kya hua? | फिर ना जाने क्या हुआ?
Kyun ho raha hai aise? | क्यों हो रहा है ऐसे?
शब्द नहीं साथ दे रहे | shabd nahi saath de rahe.
Kya soch rahi ho weerane mein | क्या सोच रही हो वीराने में?