Latest

6/recent/ticker-posts

Tum mere khwabon mein aa jati ho.

Khwab shayari
Pic credit: pixabay

 









नयनों की बातें तुम कितने अच्छे से समझाती हो,

जब भी तुम्हें सोंचता हूँ, तुम मेरे पास आ जाती हो,

हर किसी के ख़्वाब तो यूँ ही मुक़्क़मल नहीं होते,

जब भी करवट लेता हूँ, तुम मेरे ख़्वाबों में आ जाती हो।


Nayanon ki baten tum kitne achhe se samjhati ho,

Jab bhi tumhen sochta hoon, tum mere paas aa jati ho,

Har kisi ke khwab toh yu hi muqammal nahi hote,

Jab bhi karwat leta hu, tum mere khwabon mein aa jati ho.


©नीतिश तिवारी।

Post a Comment

14 Comments

  1. सराहनीय पोस्ट 👌

    ReplyDelete
  2. सुन्दर सृजन ।

    ReplyDelete
  3. जी नमस्ते ,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल गुरुवार (२०-०१ -२०२२ ) को
    'नवजात अर्चियाँ'(चर्चा अंक-४३१५)
    पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है।
    सादर

    ReplyDelete
  4. क्या बात है । बहुत बढ़िया ।

    ReplyDelete

पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएँ और शेयर करें।