Latest

6/recent/ticker-posts

Bewafai ka jashn hoga | बेवफ़ाई का जश्न होगा।

Bewafai ka jashn
Pic credit: Google.





 Bewafai ka jashn hoga | बेवफ़ाई का जश्न होगा।


बेवफ़ाई का जश्न होगा,

मोहब्बत के क़ातिल आएँगे।


फ़ैसले का दरबार सजेगा,

आशिक़ बनके मुवक्किल आएँगे।


गुनाह था कभी ना वस्ल करने की,

सज़ा मिलेगी मोहब्बत का क़त्ल करने की।


गिरते हुए आँसुओं का पैमाना बनाया जाएगा,

महफ़िल में ही नया मयख़ाना बनाया जाएगा।


इश्क़ में बेवफ़ाई का अलग जुनून दिखेगा,

आशिकों के दिल को बड़ा सुकून मिलेगा।


Bewafai ka jashn hoga,

Mohabbat ke qatil aayenge.


Faisle ka darbaar sajega,

Ashiq banke muwakkil aayenge.


Gunah tha kabhi na wasl karne ki,

Saza milegi mohabbat ka qatl karne ki.


Girate huye aansuon ka paimana banaya jayega,

Mehfil  mein hi naya maikhana banaya jayega.


Ishq mein bewafai ka alag junoon dikhega,

Ashiqon ke dil ko bada sukoon milega.


©नीतिश तिवारी।

Please follow me on Instagram and subscribe to my YouTube channel.


Instagram: poetnitish

YouTube: Nitish Tiwary


THANK YOU!

❤️❤️❤️


Post a Comment

0 Comments