Sunday, September 13, 2020

तुझमें मेरा कुछ नहीं।

Kavita

                                             Pic credit : pinterest.




     तुझमें मेरा कुछ नहीं तो
       बस इतना ही एहसान कर दे,
    जो इश्क़ किया था तुझसे
     उसको अब वापस कर दे।

       मैं सहेज लूँगा तेरी यादों को,
      दिल में रखूँगा तेरी बातों को
       नींद आये मुझे या ना आये,
       मैं रोज देखूँगा उन ख्वाबों को।

       ©नीतिश तिवारी।

Please like my facebook page.

 



 

4 comments:

  1. वाह! बहुत बढ़िया। बहुत संजीदगी से अपने प्रेम को प्रदर्शित किया गया है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुत बहुत धन्यवाद।

      Delete
  2. बहुत सुन्दर।
    हिन्दी दिवस की अशेष शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद सर। आपको भी हिन्दी दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं।

      Delete

पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएँ और शेयर करें।