Sunday, 15 September 2019

Arrested in love.






उसकी आहट है और उसका दीदार होगा,
वो जो आनेवाला है वो मेरा प्यार होगा,
तमाशें देखने का शौक है तो रुक जाओ,
अभी ये आशिक़ इश्क़ में गिरफ्तार होगा.

uski aahat hai aur uska deedar hoga,
wo jo anewala hai wo mera pyar hoga,
tamashen dekhne ka shauk hai toh ruk jao,
abhi ye ashiq ishq mein giraftar hoga.

©नीतिश तिवारी।

6 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (17-09-2019) को     "मोदी का अवतार"    (चर्चा अंक- 3461) (चर्चा अंक- 3454)  पर भी होगी।--
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. रचना शामिल करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।

      Delete
  2. काश ऐसी गिरफ्तारी सब के नसीब में हो ...
    बहुत खूब लिखा है ...

    ReplyDelete