Sunday, May 10, 2020

प्रेम में भाव विभोर होना।

Pic credit: Google.







प्रेम में भाव विभोर
होना कोई कुदरती
करिश्मा नहीं अपितु
इन्सानी शातिर मस्तिष्क
का नतीजा है।

Prem mein bhaw vibhor
Hona koi kudrati
Karishma nahi apitu
Insani shatir mastishk
Ka nateeja hai.

©नीतिश तिवारी।

ये भी देखिए।



2 comments:

पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएँ और शेयर करें।