Skip to main content

Posts

Showing posts from February, 2019

अरमान हम भी रखते हैं।

Image courtesy : Google. अंदाज़े बयाँ ना हो सही  पर दिल में अरमान हम भी रखा करते हैं  आओ कुछ नया करते हैं  दिल के अरमानो को बयां करते हैं गिरने के डर से ना करने वाली कोशिशों को बयाँ करते हैं गिर कर संभलने की दुआ करते हैं आओ कुछ नया करते हैं अतीत को भुला कर  वर्तमान में कुछ कर गुजरते हैं आने वाले अतीत को इतिहासों में दर्ज कर गुज़रते हैं  आओ कुछ नया करते हैं रैना के सपनो को रवि के तले सच कर गुजरते हैं शिखा के बीच रोड़ों को पार कर हौसले बुलन्द करते हैं आसमां को छू लेने वाली उड़ान भरते हैं आओ कुछ नया करते हैं ।। ©शांडिल्य मनिष तिवारी।

Aadat si ho gayi hai.

Image courtesy: Google. मेरा होश उड़ाने की तेरी आदत सी हो गयी है, मेरा दिल धड़काने की तेरी आदत सी हो गयी है, इश्क़ करना है तो जरा आहिस्ता- आहिस्ता कर, तुझे रोज निहारने की मेरी आदत सी हो गयी है। Mera hosh udane ki teri aadat si ho gayi hai, Mera dil dhadkane ki teri aadat si ho gayi hai, Ishq karna hai to jara aahista- aahista kar, Tujhe roj nikharne ki meri aadat hi ho gayi hai. ©नीतिश तिवारी।

Achha Laga Mujhe.

Image Courtesy : Google. Bewfai ke baad bhi pyar. अच्छा लगा मुझे तेरा पीछे से वार ना करना हाँ मैं ही कह रहा हूँ अच्छा लगा मुझे तेरा सामने से  इनकार करना अपनी खूबसूरत अदाओं को मेरे दुश्मन के नाम करना अच्छा लगा मुझे अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए तेरा किसी और का इस्तेमाल करना अच्छा लगा मुझे ©नीतिश तिवारी।

Teri Ankhon Ke Kajal Ne...

Dedicated to my Adorable Wife. अधूरे ख्वाब थे मेरे अब पूरे हुए तुमसे, तेरी खामोशियों ने मेरे ख्वाबों को जगा दिया। रास्ते थे खो गए मंज़िल भी ना थी कोई, अंधेरे रास्तों पर तुमने चलना सीखा दिया। तेरी मुस्कुराहट का मैं सज़दा करूँ हर पल, तेरे होंठो की लाली ने मुझे हँसना सीखा दिया। तेरी आँखों के काजल ने जादू किया ऐसा, ज़माने की बुरी नज़र से हमको बचा लिया। ©नीतिश तिवारी।

Kiss Day Love Poem

Image courtesy-  Google चूम लूँ तेरे होठों को या, फिर से प्यासा रह जाऊँ, दिल मेरा ये कह रहा है, आके गले मैं तुझे लगाऊँ। दो जिस्मों का मिलन है तो, बेचैनी तो बढ़ेगी ही अब, पर दो रूहों के मिलन से तो, ये प्रेम परिपूर्ण होता है। ©नीतिश तिवारी।

क़ातिल अदा।

Katil Ada. तेरे रूप की रौशनी से मेरे ख्वाब कामिल होंगे, तेरे जिस्म की खुशबू को सिर्फ  हासिल हम होंगे। अपनी कातिल अदा को किसी और के नाम मत करना, तेरे हुस्न की हर महफ़िल में सिर्फ शामिल हम होंगे। ©नीतिश तिवारी।

Subscribe To My YouTube Channel