Thursday, 10 January 2019

Best Hindi Shayri.




















Wo Gurur mein hain to rahne do,
Hamen iss surur mein rahne do,
Kisi ki bapauti kuch bhi nahin,
Unhen hi hujur rahne do.



वो गुरुर में हैं तो रहने दो,
हमें इस सुरूर में रहने दो,
किसी की बपौती कुछ भी नहीं,
उन्हें ही हुज़ूर रहने दो।

©नीतिश तिवारी।








2 comments: